♦इस खबर को आगे शेयर जरूर करें ♦

रतनगढ़ : शादी के 6 दिन बाद ज़ेवर और नगदी लेकर भागी लुटेरी दुल्हन

 

शादी के 6 दिन बाद ही एक लुटेरी दुल्हन पति के घर से भाग गई। वहीं, जाते समय अपने साथ सोने-चांदी के गहने सहित 50 हजार रुपए भी ले गई। घटना की जानकारी पति को सुबह उठने पर लगी। तब देखा तो कमरे में रखे सोने-चांदी के गहने और नकदी गायब मिले। मामला चूरू जिले के रतनगढ़ का है।

एसआई माणकलाल ने बताया कि रतनगढ़ वार्ड आठ निवासी नवरतन सांखला ने कोर्ट के माध्यम से लुटेरी दुल्हन और 2 दलाल के खिलाफ मामला दर्ज कराया है। रिपोर्ट में बताया कि 7 अगस्त को वह चूरू में अपनी रिश्तेदारी में आया हुआ था। जहां उसको घंटेल निवासी कालू ब्राह्मण मिला। जिसने मुझे रिश्तेदारों के सामने शादी कराने का झांसा दिया। शादी का खर्च आपका लगेगा। मैं दो लाख रुपए शादी करवाने की फीस लूंगा। 15 अगस्त की दोपहर कालू गाड़ी लेकर रतनगढ़ मेरे घर आया। उसने कहा कि मैं एक गरीब परिवार को जानता हूं। जिनके एक सुदंर लड़की है। परिवार गरीब है इसलिए शादी का खर्चा आपको देना पड़ेगा। शादी करवाने के झांसे में आकर मैने उसको 2 लाख रुपए दे दिए।

17 अगस्त की रात गाड़ी लेकर कालू ब्राह्मण अपने साथी मुकेश के साथ मेरे घर आया। जहां से मेरे मामा जोधराज, फूंफा मोहनलाल, लालचंद, भांजे मोहित और मुझे गाड़ी में बैठाकर रात के समय ही अलीगढ़ जिला कोला उत्तर प्रदेश ले गया। 18 अगस्त की सुबह हम सभी लोगों को एक घर में लेकर गया। जहां कुछ लोग और लड़की थी। कालू ने प्रियंका चौहान (28) से पूछा की तुम्हें यह लड़का पसंद है। तब उसने कहा मुझे लड़का पसंद है। जहां दलालों में हमें कोर्ट में ले जाकर हमारी शादी करवाई। स्टाम्प आदि लिखा पढ़ी भी करवाई। 19 अगस्त की सुबह करीब 4 बजे प्रियंका चौहान को अपने घर ले आया। इसके छह दिन बाद 24 अगस्त की रात खाना खाकर हम सोये थे। रात करीब 3 और 4 बजे के बीच लुटेरी दुल्हन प्रियंका चौहान ने कमरे में रखे सोने-चांदी के गहने और 50 हजार रुपए नकदी लेकर अपने साथी के साथ भाग गई। पुलिस ने रिपोर्ट के आधार पर लुटेरी दुल्हन और 2 दलालों मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

आधार कार्ड भी निकला फर्जी
पीड़ित नवरतन ने बताया कि प्रियंका चौहान के भागने के बाद जब दलालों से संपर्क किया। तब उन्होंने कहा कि हमारा काम शादी करवाने का है। दुल्हन टिकती है या नहीं टिकती। इसकी हमारी कोई गारंटी नहीं है। इसके अलावा पीड़ित ने जब लुटेरी दुल्हन का आधार कार्ड चेक करवाया तो सामने आया कि आधार कार्ड भी फर्जी है।

अलीगढ़ जाने की बात आई सामने
पीड़ित नवरतन ने बताया कि चूरू में उसकी बुआ और बहन का ससुराल है। आरोपी कालू उसके फूफाजी की कपड़े की दुकान पर आता जाता था। तभी फूफाजी का संपर्क उसके साथ हो गया। वह 7 अगस्त को चूरू आया हुआ था। इस दौरान कालू से संपर्क हो गया। पीड़ित ने बताया कि 24 अगस्त की रात करीब साढ़े तीन बजे उसकी आंख खुली तो पत्नी प्रियंका चौहान घर में नहीं थी। तभी वह ऑटो लेकर शहर में गया। तब कोर्ट के पास खड़े होमगार्ड्स के जवान से पूछने पर सामने आया कि 20 मिनट पहले एक लड़की बुरखा पहने हुई थी। उसके साथ एक लड़का भी था। लड़के ने बताया कि यह उसके धर्मभाई की पत्नी है। इसके परिजनों की तबीयत ज्यादा खराब हो गई है। इसलिए हमें अलीगढ़ जाना है। उन्होंने होमगार्ड से रेलवे स्टेशन जाने का रास्ता भी पूछा है। पीड़ित ने बताया कि होमगार्ड के जवानों ने लड़की से उसके मोबाइल नंबर भी लिए। तब लड़की ने 11 संख्या के मोबाइल नंबर दिए हैं। मोबाइल नंबर गलत होने की जानकारी बाद में चेक करने पर सामने आई है। इसके बाद पीड़ित पक्ष के कुछ लोग रेलवे स्टेशन और बाइपास पर भी गए। मगर उन्हें वहां कोई नहीं मिला। पीड़ित अपने रिश्तेदारों के साथ दो बार दलाल आरोपी घंटेल निवासी कालू के घर भी जाकर आया। जिस पर मोबाइल पर बात की। मगर घर नहीं आया।

j

विज्ञापन बॉक्स (विज्ञापन देने के लिए संपर्क करें)


जवाब जरूर दे 

सरदारशहर विधानसभा उपचुनाव में विजयश्री किसको मिलेगी

View Results

Loading ... Loading ...


Get Your Own News Portal Website 
Call or WhatsApp - +91 8809 666 000

Related Articles

This will close in 60 seconds

Close
Close
Website Design By Mytesta.com +91 8809 666 000