♦इस खबर को आगे शेयर जरूर करें ♦

प्लास्टिक पॉलिबेग हानिकारक, श्री डूंगरगढ़ की इस संस्था ने उठाया आमजन को जागरूक करने का जिम्मा

श्रीडूंगरगढ। प्रदेश सरकार ने प्लास्टिक पॉलीथिन पर बेन लगा रखा है उसके बावजूद भी पॉलीथिन का प्रयोग खुलेआम हो रहा है और कार्रवाई के नाम पर कभी कभार लीपापोती भी कर ली जाती है। कम माइक्रोन की प्लास्टिक थैली के प्रयोग से सबसे ज्यादा नुकसान पशुओं को होता है किसी भी चीज के साथ पशु प्लास्टिक थैली को भी खा लेते है और नतीजतन उनको इसका खामियाजा अपनी जान देकर चुकाना पड़ता है ओर इसके जिम्मेदार प्रदेश सरकार और आमजन है जो इसका प्रयोग करते है।

समय समय पर सामाजिक संस्थाए प्लास्टिक पॉलीथिन के प्रयोग पर रोकथाम के लिए प्रयास करती है और आमजन को इसके दुष्परिणाम के बारे में बताकर जागरूक भी करती रहती है।

श्रीडूंगरगढ़ कस्बे को भी पॉलीथिन मुक्त बनाने के लिए फ्रेंड्स ग्रुप, कालूबास के तत्वावधान में पॉलीथिन कैरीबैग का उपयोग बंद करने के लिए आमजन को जागरूक किया गया ओर कपड़े से बने थैले कस्बे के मुख्य बाजार स्थित सब्जी के ठेले पर सब्जी ले रहे लोगों को वितरित किये गए।

इस सराहनीय कार्य में कस्बे के प्रथम नागरिक चेयरमैन मानमल शर्मा ने भी साथ दिया और लोगों से समझाईस कर पॉलीथिन का उपयोग नहीं करने की अपील की। इसके साथ ही उन्होंने दुकानदारों से भी सब्जी व अन्य सामान कम माइक्रोन की प्लास्टिक पॉलीथिन में नहीं डालकर देने की अपील की। चेयरपर्सन शर्मा ने कहा कि बुधवार से पॉलीथिन मुक्त श्रीडूंगरगढ़ अभियान की शुरुआत की जाएगी। आमजन व दुकानदारों से समझाईस की जाएगी और नहीं मानने पर पॉलीथिन जब्त कर पैनल्टी भी लगाई जाएगी।

फ्रेंड्स ग्रुप के बिमल चौरड़िया व हीरालाल पुगलिया ने पॉलीथिन का नुकसान बताते हुए कहा कि यह कभी नष्ट नहीं होती, मवेशियों की जान को खतरा होता है और उनकी जान भी चली जाती है।पर्यावरण को नुकसान, नालिया भी अवरुद्ध हो जाती है, पेय या खाद्य पदार्थ पॉलीथिन में रखने से स्वास्थ्य पर बुरा असर पड़ता है।

उन्होंने कस्बेवासियों से अपील की है कि बाजार से कुछ भी खरीदने से पहले जागरूकता के साथ घर से ही कपड़े की थैली लेकर बाजार जाए। इस सेवा के कार्य में आर्थिक सहयोग धनराज भीखमचंद हेमराज अरुण अरविंद पुगलिया परिवार जयपुर-श्रीडूंगरगढ़ का रहा।इस दौरान पार्षद पवन उपाध्याय, लोकेश गौड़, विक्रम शेखवात, पार्षद प्रतिनिधि श्यामसुंदर पुरोहित, गोपाल छापोला, पूर्व पार्षद मोहन नाई, बिमल चुरा, पवन व्यास, कान्तिलाल पुगलिया, गौरीशंकर माली, रामरतन जाखड़, कमल भंसाली, नंदू नाई आदि मौजूद रहे।

j

विज्ञापन बॉक्स (विज्ञापन देने के लिए संपर्क करें)


जवाब जरूर दे 

कोरोना के खतरे को देखते हुए राजस्थान में भाजपा का रोड शो करना और कॉंग्रेस रैली करना क्या सही है

  • रोड शो और रैली पर रोक लगनी चाहिए (50%, 7 Votes)
  • राजनीति दल को सिर्फ अपना हित सोचती है, जनता की इनको परवाह नही (43%, 6 Votes)
  • रोड शो और रैली होनी चाहिए (7%, 1 Votes)

Total Voters: 14

Loading ... Loading ...


Get Your Own News Portal Website 
Call or WhatsApp - +91 8809 666 000

Related Articles

Close
Close
Website Design By Mytesta.com +91 8809 666 000