♦इस खबर को आगे शेयर जरूर करें ♦

पूर्व मुख्यमंत्री ने दिया विवादित बयान, बोले राम भगवान नहीं

बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री जीतन राम मांझी (Jitan Ram Manjhi) ने गुरुवार को एक कार्यक्रम में नया विवाद खड़ा कर दिया है. डॉ भीमराव अंबेडकर जयंती के मौके पर उन्होंने मंच से भगवान राम के अस्तित्व पर सवाल खड़े करने वाला विवादित बयान दिया है. जिसके बाद से सोशल मीडिया पर उनके बयान वाला वीडियो वायरल हो रहा है. इस मामले में अब बिहार कांग्रेस के प्रभारी भक्त चरण दास मांझी ने भी प्रतिक्रिया दी है.

क्या बोले भक्त चरण दास

बिहार कांग्रेस के प्रभारी भक्त चरण दास ने जीतन राम मांझी के उस बयान पर प्रतिक्रिया दी है जिसमें उन्होंने राम को काल्पनिक पात्र बताया था. भक्त चरण दास ने कहा कि जीतन राम मांझी गरीबों की राजनीति करके आगे आए हैं इसलिए उन्हें पता है कि राम का महत्व क्या है और राम के बिना महाकाव्य पूरा नहीं हो सकता था.

भाजपा पर साधा निशाना

जीतन राम मांझी के बयान के बहाने भक्त चरण दास ने भाजपा पर भी निशाना साधा है. भक्त चरण दास ने कहा कि भाजपा राम के नाम का व्यवसायीकरण कर रही है, राम किसी भी स्तर पर व्यवसायीकरण के पात्र नहीं हैं.

क्या बोले थे जीतन

दरअसल, जमुई में गुरुवार को अंबेडकर जयंती पर हुए एक कार्यक्रम में उन्होंने कहा कि राम कोई भगवान नहीं थे, वाल्मीकि और तुलसीदास के काव्य पात्र थे. वे यहीं नहीं रुके, उन्होंने आगे कहा कि राम भगवान थोड़े ही थे, वे तो महाकाव्य के पात्र थे. उन्होंने समारोह को संबोधित करते हुए कहा कि पूजा पाठ करने से कोई बड़ा नहीं होता. उन्होंने कहा कि अनुसूचित जाति के लोगों को पूजा पाठ करना बंद कर देना चाहिए.

ब्राह्मणों पर साधा था निशाना

इस मौके पर जीतन ने ब्राह्मणों पर निशाना साधते हुए कहा कि जो ब्राह्मण मांस और शराब पीते हैं, झूठ बोलते हैं. ऐसे ब्राह्मणों से दूर रहना चाहिए. उनसे पूजा पाठ नहीं कराना चाहिए. आप लोग पूजा पाठ करना बंद कर दीजिए. उन्होंने कहा कि शबरी के झूठे बेर को राम ने खाया था. बता दें कि अंबेडकर जयंती को लेकर सिकंदरा के विधायक प्रफुल्ल मांझी ने इस कार्यक्रम का आयोजन किया था.

j

विज्ञापन बॉक्स (विज्ञापन देने के लिए संपर्क करें)


जवाब जरूर दे 

कोरोना के खतरे को देखते हुए राजस्थान में भाजपा का रोड शो करना और कॉंग्रेस रैली करना क्या सही है

  • रोड शो और रैली पर रोक लगनी चाहिए (50%, 7 Votes)
  • राजनीति दल को सिर्फ अपना हित सोचती है, जनता की इनको परवाह नही (43%, 6 Votes)
  • रोड शो और रैली होनी चाहिए (7%, 1 Votes)

Total Voters: 14

Loading ... Loading ...


Get Your Own News Portal Website 
Call or WhatsApp - +91 8809 666 000

Related Articles

Close
Close
Website Design By Mytesta.com +91 8809 666 000